Bageshwar Dham: 22 भाषाओं के जानकार, 80 से अधिक रचनाएं, जानें धीरेंद्र शास्त्री के गुरु रामभद्राचार्य को

Share this on your social network proudly:

स्वामी अविमुक्तेश्वरानंद ने कहा है कि अगर धीरेंद्र शास्त्री के पास इतनी ही शक्ति है तो वह इसकी मदद से जोशीमठ की दरारों को क्यों नहीं भर देते? वहीं, धीरेंद्र शास्त्री के गुरु रामभद्राचार्य अपने शिष्य के समर्थन में उतर आए हैं।